शिमला के एक स्कूल में पकड़ा फर्जी डिग्री वाला शिक्षक, जांच में जुटी पुलिस

Spread the love

शिमला

शिमला के एक निजी स्कूल में एक शिक्षक पिछले करीब तीन वर्षों से फर्जी डिग्री के जरिए नौकरी करने का मामला सामने आया है । स्कूल प्रबंधन के पास मामला सामने आने पर जब जांच की गई तो आरोपी की कॉलेज की डिग्री फर्जी पाई गई । ऐसे में स्कूल प्रबंधन की तरफ से फर्जी डिग्री के जरिए नौकरी करने वाले फर्जी शिक्षक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया गया है । यह मामला शहर के ढली थाना के क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि ढली के एक निजी स्कूल में अरुण नाम का व्यक्ति शारीरिक शिक्षक के तौर पर काम कर रहा था। वह शिमला जिला के चौपाल का मूल निवासी है। स्कूल प्रबंधन को अरुण

की फर्जी डिग्री के बारे में शिकायत मिली। जिसके बाद आरोपी की डिग्री जांची गई। जांच के दौरान समने आया कि व्यक्ति की कॉलेज की डिग्री फर्जी है।

बता दें कि आरोपी ने अपनी डिग्री में जिस कॉलेज का जिक्र किया था, उस कॉलेज से वह पढ़ा ही नहीं था। मामले का खुलासा होने पर प्रिंसिपल ने आरोपी के विरुद्ध ढली थाने में शिकायत दी है । पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि आरोपी ने जाली प्रमाण पत्र देकर शारीरिक शिक्षक की नौकरी हासिल की। साथ ही आर्थिक लाभ लेकर स्कूल प्रबंधन के साथ धोखाधड़ी की। पुलिस ने इस मामले में आरोपी के विरुद्ध आईपीसी की धाराओं 420, 467, 468 व 471 में मामला दज्र किया है । पुलिस इस मामले में जांच पड़ताल कर रही है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *