अपने मंत्रियों की बयानबाजी पर लगाम लगाए सीएम सुक्खू, शिमला टैक्सी विवाद पर बोले जय राम ठाकुर,

Spread the love

मंडी

हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने शिमला में सिरमौर के टैक्सी चालक की बेहरहमी के साथ पिटाई और इस मामले में सरकार के एक मंत्री के बयानों को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि इससे पहले कभी ऐसा नहीं हुआ है। हिमाचल सबका है और सबको इसके विकास के लिए काम एक साथ करना है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ऐसे मंत्रियों पर लगाम लगाएं। मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों को हिदायत दें कि ऐसे बयानों से परहेज करें, जो आपसी भाईचारे को बिगाडऩ़े वाले हों। शिमला के एक मंत्री के भाषण का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मंत्री का यह कहना है कि शिमला से बाहर वाले जो भी हैं, उनके खिलाफ केस दर्ज करो, यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि शिमला में जो कुछ भी हुआ, वह नहीं होना चाहिए था।

 

 

जिला विशेष या क्षेत्र विशेष के लोगों के लिए इस तरह की बात करना सही नहीं है।मनोहर हत्याकांड को लेकर उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब प्रदेश में चुनाव जीती थी, तो मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रदेश में 91 प्रतिशत हिंदु हैं, मगर फिर भी हमने हिंदुवादी पार्टी को हरा दिया। ऐसे ब्यानों से गलत तत्वों के हौंसले बढ़े और प्रदेश में ऐसी घटनाएं हो रही हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में कांग्रेस राजनीति कर रही है। इस मामले में वह आज भी अपनी उस मांग पर कायम हैं कि इस पूरे प्रकरण की जांच एनआईए को सौंपी जानी चाहिए। आज तक वहां न तो सरकार का कोई मंत्री गया, न मुख्यमंत्री पीडि़त परिवार से मिलने गए। पुलिस प्रशासन हैड लैस है।

 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि पूरे प्रदेश में विकास के काम ठप्प पड़े हैं। सब काम वहीं रुके हुए हैं, जहां पर हमारी सरकार छोड़ कर गई थी। पूरे प्रदेश में यही हाल है। 15 हजार सरकारी कर्मियों को वेतन नहीं मिला है। हजारों आउटसोर्स कर्मी काम से निकाल दिए गए हैं। ऐसा लगता है कि सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *