ननखड़ी छात्र संगठन बधाई का पात्र, अन्य संगठन भी ले प्रेरणा: यशवंत छाजटा

Spread the love

शिमला

ननखड़ी छात्र संगठन ने रक्तदान शिविर का किया आयोजन

छात्र संगठन बधाई का पात्र, अन्य संगठन भी ले प्रेरणा: छाजटा

ननखड़ी छात्र संगठन की ओर से शनिवार को रिज मैदान पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में संगठन के पदाधिकारी, सदस्य, स्थानीय लोगों सहित अन्य राज्यों से आए पर्यटकों ने भी रक्तदान किया। शिविर में 50 यूनिट रक्त एकत्र किया गया। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी महासचिव व हिमुडा के उपाध्यक्ष यशवंत छाजटा बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए। सर्दियों के दिनों में आईजीएमसी, रिपन व केएनएच अस्पतालों में खून की कमी होती है। खासकर अस्पतालों में एबी पॉजीटिव, ए पॉजीटिव, ए नेगेटिव रक्त की कमी रहती है। लोगों को रक्त के लिए चक्कर काटने पड़ रहे हैं। ऐसे में युवाओं ने इस शिविर को लगाने का बेड़ा उठाया। ताकि लोगों को रक्त की कमी से किसी को न जूझना पड़े।

 

 

छात्रों को दी नेक कार्य के लिए बधाई

 

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी महासचिव व हिमुडा के उपाध्यक्ष यशवंत छाजटा ने ननखड़ी छात्र संगठन के सभी पदाधिकारियों को इस नेक कार्य के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में रक्त की कमी रहती है। सर्दियाें के दिनों में खासकर सभी अस्पतालों के ब्लड बैंक में रक्त की कमी रहती है। ऐसे में छात्र संगठनों का यह प्रयास सराहनीय है। उन्होंने कहा कि युवा देश का भविष्य है। समाज सेवा के लिए उनका योगदान काफी अहम है। छाजटा ने कहा कि रक्तदान महादान है। युवाओं को इसमें बढ़चढ़ कर भाग लेना चाहिए। जो युवा रास्ते से भटक गए है और गलत राह पर चले है, उन्हें भी इस तरह के कार्यक्रमों से प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने संगठन के अध्यक्ष को बधाई दी। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी महासचिव यशपाल तनाईक प्रदेश सचिव राजेश वर्मा एवं जिला शहरी उपाध्यक्ष जीत राम पवार भी इस दौरान मौजूद थे। उन्होंने भी ननखड़ी छात्र संगठन के कार्यकर्ताओं को बधाई दी और कहा कि छात्र संगठन इस तरह के आयोजन भविष्य में भी जारी रखें।

 

ननखड़ी छात्र संगठन के अध्यक्ष ऋषव ने सभी रक्तदाताओं का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि छात्र संगठन साल भर इस तरह के आयोजन करता रहता है। अस्पतालों में किसी को भी खून की कमी न हो इसके लिए यह शिविर लगाया गया था। उन्होंने कहा कि संगठन शिविर ही नहीं अस्पताल में जरूरत पड़ने पर भी खून देने के लिए जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *