पत्नी की चतुर वार्षिकी पर तीर्थ यात्रा पर गए पति, वापस लौटने पर देखा तो आगजनी में सब कुछ हो गया था खाक, कुछ भी नही बचा, वन विकास निगम उपाध्यक्ष कहर सिंह खाची ने प्रदान की 30 हजार की सहायता राशि बोले सरकार से दिलाएंगे राहत पैकेज

Spread the love

मतियाना

ठियोग उपमंडल के मतियाना खंड की भराना पंचायत के गांव गडली में जोगिंद्र शर्मा पर लगातार टूट रहा दुखों का पहाड़, 4 साल पहले पत्नी ने छोड़ा साथ तो अब तीर्थ यात्रा के दौरान घर जलकर हुआ राख 25 से 30 लाख का नुकसान, कीमती, गहने, इलेक्टिंक सामन, लैपटॉप, केश सहित सारा सामन जलकर खाक, एकाकी जीवन जीते हैं जोगिंदर शर्मा एक बेटी जिसकी हो चुकी है शादी।

ठियोग उपमंडल के तहत भराना पंचायत के गडली में BPL परिवार से तालुक रखने वाले जोगिंद्र शर्मा जो एकाकी जीवन जीने को मजबूर है एकबले बाद उनकी भगवान भी परीक्षा ले रहा है 4 साल पहले पत्नी ने साथ छोड़ा और अब जब उनकी चतुर वार्षिकी के बाद तीर्थ यात्रा पर निकले तो घर में बड़ा हादसा हो गया उनका पूरा मकान जलकर राख हो गया जो खून पसीने की कमाई और बैंक से लोन लेकर बनाया 26 जनवरी की सुबह जब उनकी इकलौती बेटी और नाती घर में आग सेक रहे थे तो एकाएक आग की चिंगारी ने घर के पीछे सुखी घास में भड़क गई और उसने धीरे धीरे घर को अपनी चपेट में ले लिया।

 

घर में मौजूद 8 साल का बच्चा जिसका नाम भव्य है जब घर से बाहर खेलने निकला तो चिल्लाया की मम्मा घर के पीछे आग लग गई उसके बाद दोनों मदद के लिए चीखें चिल्लाए घर में मौजूद बेटी अनुपमा अगर घर के अंदर कुछ सामान बचाने अंदर जाति तो बेटा भी आग के बीच उनके पीछे दौड़ पड़ता जिससे न तो कोई कीमती सामान निकाल पाए और न ही आग पर काबू कर पाए । दोनों मदद के लिए बहुत चीखें चिल्लाए जब तक लोग मदद के लिए आते आग ने पूरा घर अपनी चपेट में ले लिया ऐसे में लोग आस पास के क्षेत्र को ही सुरक्षित कर पाए आग की सूचना पुलिस और फायर की दी गईं जिसके बाद मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने आग पर काबू किया लेकिन आग ने सब कुछ राख कर दिया जो कपड़े पहने थे वही बच पाए एक कमरा जिसके ऊपर लेंटर पड़ा था वो सुरक्षित लग रहा था लेकिन उसमे दरारे पड़ गई मौके पर SDM ठियोग मुकेश शर्मा भी आए उन्होंने 10 हजार की राहत राशि और तिरपाल दिया और प्रशासन की तरफ से और भी मदद का भरोसा दिया।

 

आग लगने की सूचना जोगिंद्र शर्मा को नही दी गई जिससे वे अपनी यात्रा अधूरी न रखे इस बात को स्थानीय लोगों ओर रिशेतदारो ने गुप्त रखा लेकिन जब वो घर वापिस आए तो यह सब देखकर उनके होश उड़ गए जिन्दगी भर की कमाई और बैंक से लिए लोन से बना उनका आशियाना उजड़ गया।

 

बहरहाल हालत ये है की जो कमरा सुरक्षित लग रहा था उसमे आई दरारों से बर्फ और और बारिश का पानी रिस गया और जो लोगों ने मदद कर राशन और बिस्तर दिए वो भी खराब हो गया और अब इस कड़कती ठंड में वैकल्पिक गोशाला में रहने को मजबूर है।

 

इस बीच बन विकास निगम के उपाध्यक्ष केहर सिंह खाची ने मौके का जायजा लिया और मकान के लिए लकड़ी सहित 30 हजार की फौरी राशि भी प्रदान की साथ ही उन्होंने सरकार की तरफ से हर संभव मदद का भी भरोसा दिया इस दौरान उनके साथ, कांग्रेस परदेश महासचिव राजेंद्र वर्मा, भराना प्रधान मीना शर्मा, धर्मपुर की प्रधान बनीता वर्मा, मौजूद रही और सभी ने पीड़ित जोगेंद्र शर्मा को हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *