नारकंडा में अचेत अवस्था में मिली 45 वर्षीय महिला की दुखद मृत्यु, अस्पताल पहुचने पर डाक्टर ने किया मृत घोषित

Spread the love

नारकंडा

वीरवार सुबह के समय एक महिला नारकंडा बस स्टैंड पर अचेत अवस्था में मिली है। स्थानीय लोगो ने जब उसे देखा तो महिला को पानी डाल कर जगाने की कोशिश की लेकिन महिला अचेत ही रही। नगर पंचायत नारकंडा के पार्षद विक्रांत श्याम ने बताया कि अचेत अवस्था में मिली महिला की जानकारी पुलिस को दी और उसके बाद स्थानीय लोगों के सहयोग से महिला को अस्पताल ले जाया गया जहां पर डाक्टर ना होने के कारण वहां से महिला को 108 एंबुलेंस से दो पुलिस कर्मियों द्वारा कुमारसैन अस्पताल ले जाया गया।

अस्पताल में डाक्टर द्वारा महिला को मृत घोषित किया गया।

थाना प्रभारी कुमार सैन किरण ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया की उक्त महिला का नाम कमला दांगी पत्नी तूल बहादुर उम्र 45 वर्ष है। ये लोग नेपाली मूल के है और कोटखाई के गुम्मा में किसी स्थानीय बागवान के पास काम करते है। पुलिस ने परिजनो से संपर्क कर उन्हें अवगत करा लिया है। शुक्रवार को पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

 

मृतक महिला के पति तूल बहादुर से मिली जानकारी के अनुसार ये महिला घर से लड़कर निकली थी और पहले उसे ठियोग में देखा गया था उसके बाद कब नारकंडा चली गई ये पता नही है। उसने बताया की पहले भी कई बार शराब पीकर वो ऐसा कर चुकी है। उसने बताया की जब किसी ने उसे न्यूज 24 हिमाचल की खबर में उसका फोटो दिखाया तब उसे मालूम चला।

वहीं नारकंडा में स्थानीय लोगों ने बताया की उक्त महिला को सुबह के समय भी नारकंडा में देखा गया था तब वो अपने आप से ही बाते कर रही थी। लगभग 10 बजे के बाद वो महिला बस स्टैंड पर अचेत हो गई। जिसे नगर पंचायत नारकंडा की सफाई कर्मचारी अनुराधा ने देखा और उसे उठाने की कोशिश की, उसको पानी पिलाने की कोशिश भी की लेकिन वो महिला अचेत ही रही उसके बाद फिर पुलिस को सूचना दी गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *